MP Logo पंचायत एवं ग्रामीण विकास पोर्टल  
  •    
    • :
    • :

पंचायतराज संचालनालय

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, म.प्र. || Panchayat & Rural Development Department, Bhopal, Madhya Pradesh

About Us
SessionID: 38042 HODID:

ग्रामीण यांत्रिकी सेवा का गठन वर्ष 1976 में म.प्र. शासन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत किया गया। इसका उद्देश्‍य शहरी क्षेत्र अर्थात् जिला मुख्यालय एवं नगरीय क्षेत्र को छोड़कर ग्रामीण क्षेत्रों में अपेक्षाकृत कम लागत के निर्माण कार्यों का संपादन करना एवं त्रिस्तरीय पंचायत राज संस्थाओं द्वारा संपादित किये जा रहे समस्त निर्माण कार्यों पर तकनीकी सलाह एवं तकनीकी नियंत्रण का कार्य करना था।

 

वर्तमान में ग्रामीण यांत्रिकी सेवा द्वारा विभाग द्वारा सौंपे गए कई बड़े कार्यों का संपादन जिला एवं विकास खण्ड स्तर पर कराया जा रहा है। ग्रामीण यांत्रिकी सेवा द्वारा प्रदेश के दूरस्थ ग्रामीण अंचलों में केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा वित्त पोषित विभिन्न अधोसंरचना विकास के कार्यों का संपादन किया जाता है। इस सेवा द्वारा निविदा पद्धति से प्रदेश की महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण स्‍टेडियम एवं खेल परिसर, मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना एवं अन्य योजनाओं के कार्यों का संपादन कराया जा रहा है।

 

वर्तमान में त्रिस्तरीय पंचायत राज संस्थाओं द्वारा ग्राम पंचायतों के माध्यम से रू. 15.00 लाख तक की लागत के सभी निर्माण कार्यों जैसे कि सभी प्रकार के भवन निर्माण कार्य, सड़क निर्माण कार्य, छोटे निस्तारी तालाब निर्माण, कुआं निर्माण आदि का संपादन होता है। ग्राम पंचायतों द्वारा किये जाने वाले सभी कार्यों जैसे कि प्रधानमंत्री आवास योजना, मनरेगा, स्वच्छ भारत मिशन आदि संबंधी कार्यों में तकनीकी मार्गदर्शन इस सेवा के इंजीनियर्स द्वारा दिया जाता है।